तुर्की की ‘आईएस’ की तरफ से इंधन की खरीदारी; ‘आईएस’ के कमांडर का रहस्य भेद

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तर

कामिश्लो – पिछले पाँच सालों से सीरिया और इराक में चल रहे ‘आईएस’ के खिलाफ संघर्ष में शामिल होने की बात तुर्की ने घोषित की थी। लेकिन इसी आईएस की तरफ से तुर्की बार बार इंधन और गैस की खरीदारी कर रहा है, ऐसा सनसनीखेज दावा आईएस के कमांडर ने किया है। तुर्की की तरह सीरिया भी आईएस के साथ इस इंधन व्यवहार में जुड़ा  है, ऐसा आरोप आईएस के आतंकवादी ने किया है। इन आरोपों की वजह से तुर्की और सीरिया की राजवट के सामने समस्याएँ बढ़ सकती हैं।

सीरिया के कुर्द इलाके के कारागृह में कैद आईएस के वरिष्ठ कमांडर का स्थानीय न्यूज़ चैनल ने साक्षात्कार लिया है। इस स्सक्षत्कर में आईएस का कमांडर ‘रझिक रादिक मासिमो’ ने उसकी गिरफ़्तारी से पहले कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं की जानकारी दी है। कुछ महीनों पहले तक इराक और सीरिया में फैले आईएस के तुर्की और सीरिया की राजवट के साथ जटिल व्यापारी सहकार्य था। इन दोनों देशों की राजवट के साथ आईएस के कमांडर संपर्क में हैं, ऐसा मासिमो ने कहा है।

पिछले तीन सालों में आईएस और तुर्की के बीच बड़े पैमाने पर इंधन और गैस के व्यवहार हुए हैं। इन व्यवहारों के लिए सीरिया की ‘फ्री सीरियन आर्मी’ इन बागियों के प्रमुख संगठन ने मध्यस्थी करने का दावा भी मासिमो ने किया है। सीरिया की राजवट के साथ आईएस ने सीधे इंधन और गैस व्यवहार किये थे। आईएस, तुर्की और सीरिया के इन इंधन व्यवहारों के तपशील अपने पास नहीं है, ऐसा मासिमो ने कहा है।

इसके अलावा सीरिया में अमरिका और कुर्दों की कार्रवाई के बारे में भी मासिमो ने जानकारी दी है। पिछले वर्ष अमरिका ने आईएस के वर्चस्व वाले ठिकानो पर जोरदार हवाई हमले किये थे। अमरिकी सैनिक और कुर्द बागियों ने मिलकर जोरदार कार्रवाई की थी। इस कार्रवाई की वजह से आईएस की कमर टूटने की बात मासिमो ने कबूल की है।

कुर्दों ने गिरफ्तार करने से पहले मासिमो सीरिया के ‘राक्का’ इलाके में आईएस की कमांड संभाल रहा था। इसके अलावा सीरिया के पूर्व में स्थित ‘देर अल-झोर’ प्रान्त के मियादीन शहर में तैनात होने की जानकारी मासिमो ने दी है।

दौरान, आईएस विरोधी संघर्ष में शामिल हुए तुर्की पर इसके पहले भी आईएस की तरफ से इंधन और गैस की खरीदारी होने के आरोप हुए थे। आईएस की तरफ से इंधन और गैस की खरीदारी करके तुर्की की एरदोगन राजवट ने इंधन काले बाजार में दुगने दामों से बिक्री करने का आरोप लगाया गया था। एरदोगन राजवट के सीरिया के आईएस के साथ छुपे सहकार्य होने का आरोप रशिया के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव्ह ने लगाया था।

आईएस और तुर्की के बीच का यह इंधन व्यापार व्यवसायिक स्तर पर पहुंच गया है और हर दिन सीरिया से दर्जनों ट्रक इंधन और गैस लेकर तुर्की में दाखिल हो रहे हैं, ऐसा आरोप रशियन राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन ने लगाया था। इस संबन्ध में सबूत, सॅटॅलाइट फोटोग्राफ्स और ड्रोन विडियो द्वारा रशिया ने प्रसिद्ध किये थे। लेकिन तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष एर्दोगन ने रशिया के आरोपों को ख़ारिज किया था।

इसके अलावा सीरिया की अस्साद राजवट ने भी आईएस के आतंकवादियों के साथ संपर्क करने खबरें प्रसिद्ध हुईं थी। सीरिया में स्थित इंधन और गैस परियोजनाएं कार्यरत रहें, इसके लिए अस्साद राजवट ने आईएस को इन्जिनिअर्स और विशेषज्ञ अधिकारियों की आपूर्ति करने की घटनाएं भी सामने आईं थी। अस्साद राजवट ने इस बारे में बातचीत करना टाला है।

‘साऊथ चायना सी’ के मसले पर अमेरिकी रक्षामंत्री द्वारा चीन को चेतावनी
पाकिस्तानी सेना द्वारा किये गए आवाहन के बाद, अब ‘सीपीईसी’ में शामिल होने के लिए चीन का भारत को आवाहन
‘हफीज सईद आतंकवाद फैला रहा है’ : पाकिस्तान ने आख़िरकार किया स्वीकार
दुनिया की पहली रोबोट सिटीजन सोफ़िया को कुटुंब, बच्चे, दोस्त, करियर और प्रसिद्धि चाहिए
रशिया एवं चीन अपने व्यवहारों से - डॉलर एवं यूरो को बाहर करते हुए स्थानीय चलन का उपयोग शुरू करे - चीन...
रशिया में चल रहे फुटबॉल वर्ल्ड कप पर ‘लोन वुल्फ’ के हमले करने की ‘आईएस’ की धमकी
कृत्रिम द्वीपों की सुरक्षा के लिए ‘साउथ चाइना सी’ में चीन की नौसेना का युद्धाभ्यास - स्प्रैटली द्वीप...
अमरिका-चीन व्यापार युद्ध शुरू होने के बाद – चीन को अमरिका के खिलाफ भारत के सहकार्य कि अपेक्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published.