७ महीने में डेढ़ हजार से अधिक शरणार्थियों की जान गई – संयुक्त राष्ट्रसंघ का रिपोर्ट

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तर

जिनीवा – खाड़ी देश एवं अफ्रीका से भूमध्य सागर क्षेत्र के मार्ग से यूरोप में घुसपैठ करने वाले डेढ़ हजार से अधिक शरणार्थियों ने प्राण गवाई है, ऐसी की जानकारी संयुक्त राष्ट्रसंघ ने दी है। पिछले कई वर्षों की तुलना में यूरोप में घुसपैठ करनेवाले शरणार्थियों का प्रमाण कम होने के दावे होते हुए बली जानेवाले लोगों की संख्या में होनेवाली बढ़त चिंताजनक होने का मत संयुक्त राष्ट्रसंघ के हाय कमीशन फॉर रिफ्यूजी इस यंत्रणा ने व्यक्त किया है। इस पृष्ठभूमि पर यूरोप में स्पेन यह देश घुसपैठ करने वाले शरणार्थीयों का नया लक्ष्य होने की बात सामने आ रही है।

पिछले कई महीनों में यूरोप में शरणार्थियों की समस्या का मुद्दा फिर एक बार बढ़ना शुरू हुआ है। यूरोपीय देशों में घुसपैठ शरणार्थियों के विरोध में असंतोष लगातार बढ़ता जा रहा है और विदेशों में सत्ताधारी सल्तनत तथा यूरोपीय महासंघ पर बडा दबाव निर्माण हुआ है। यूरोप के अग्रणी के देश होनेवाले जर्मनी, ऑस्ट्रिया, इटली, पोलैंड, हंगेरी जैसे देशों में शरणार्थियों के विरोध में आक्रामक धारणा कार्यान्वित करना शुरू हुआ है।

संयुक्त राष्ट्रसंघ, रिपोर्ट, हाय कमीशन फॉर रिफ्यूजी, शरणार्थि, यूरोप में घुसपैठ, जिनीवा, स्पेन

कुछ महीनों पहले इटली में सत्ता पर आए हुए नए सरकार ने शरणार्थियों पर जारी किए प्रवेश बंदी का तीव्र प्रतिसाद उमड़ना शुरू हुआ है। अन्य देशों ने भी इटली का अनुकरण करते हुए शरणार्थियों को रोकने पर जोर दिया है और महासंघ एवं शरणार्थियों का समर्थन करने वाले यूरोपीय नेताओं को गतिरोध किया है। इस पृष्ठभूमि पर शरणार्थियों की घुसपैठ करनेवाले मानवी तस्कर एवं अन्य अपराधी टोलियों से शरणार्थियों को यूरोप में भेजने के लिए अधिक खतरनाक मार्ग का उपयोग किया जा रहा है।

यह खतरनाक मार्ग एवं इटली जैसे देशों ने लिए आक्रामक भूमिका शरणार्थियों की बलि जाने के पीछे प्रमुख घटक होने का दावा संयुक्त राष्ट्र संघ ने किया है। इस वर्ष जनवरी से जुलाई महीने में डेढ़ हजार से अधिक शरणार्थीयों ने घुसपैठ के दौरान जान गवाई है। जून एवं जुलाई महीने में अधिकतम बलि जाने की खबर संयुक्त राष्ट्रसंघ के रिपोर्ट में दी गई है। इस कालखंड में ६० हजार से अधिक शरणार्थीयों ने भूमध्य सागरीय क्षेत्र से यूरोप में घुसने का प्रयत्न करने की बात कही जा रही है।

दौरान यूरोप में घुसपैठ करने वाले शरणार्थीयों ने स्पेन को लक्ष्य करना शुरू किया है और पिछले ७ महीनों में २३ हजार से अधिक शरणार्थी स्पेन में दाखिल हुए हैं। सन २०१७ से स्पेन में लगभग २१ हजार ५०० शरणार्थी स्पेन में दाखिल हुए थे।

संयुक्त राष्ट्र में भारत का पाक़िस्तान को क़रारा जवाब
‘मसूद अझहर’ मसले पर भारत और चीन में मतभेद तीव्र
‘विलफुल डिफॉल्टर’ विजय मल्ल्या ब्रिटन में गिरफ्तार; कुछ ही घंटों में ज़मानत पर रिहाई
अमरिका के टेक्सास प्रान्त के हत्याकांड मे २६ लोगों की जान गयी - प्रार्थना स्थल मे हवाईदल के भूतपूर्व...
आतंकवादियों के पास परमाणु-रासायनिक शस्त्र लग गए तो अनर्थ होगा - लष्कर प्रमुख बिपिन रावत का इशारा
सीरिया के दमास्कस और होम्स पर इस्राइल के नौ मिसाइल हमले - सीरिया के सरकारी माध्यमों का दावा
चार दशक में पहली बार स्वीडन के आरक्षित सेनादल का आपातकालीन युद्धाभ्यास
इंधन दर कम न किये तो अमरिका सौदी की सुरक्षा हटायेगी - राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प की धमकी

Leave a Reply

Your email address will not be published.