जम्मू-कश्मीर के नियंत्रण रेखा के परे पाकिस्तान के सात बंकर्स भारतीय सेना ने ध्वस्त किए – पाकिस्तान के पांच जवान भी ढेर

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने बखेडा करना रोका नही तो, भारतीय लष्कर बडी कार्रवाई करने से हिचकिचाएगा नही, यह चेतावनी भारतीय लष्कर प्रमुख ने दी थी| इसे कुछ घंटे भी नही हुए तो भारतीय सेना ने पुंछ सेक्टर में सीमा से परे बने पाकिस्तानी लष्कर के सात बंकर्स ध्वस्त किए है| इस हमले में पाकिस्तान के पांच जवान ढेर हुए| भारत ने नियंत्रण रेखा पर की यह कार्रवाई यानी इस देश की लष्करी महत्वाकांक्षा का हिस्सा साबित होता है, यह आलोचना पाकिस्तान के विदेश सचिव ने की है|

जम्मू-कश्मीर, नियंत्रण रेखा, परे, पाकिस्तान, सात बंकर्स, भारतीय सेना, ध्वस्त, पांच जवान, ढेरनियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान लष्कर कर रहे गोलाबारी की तीव्रता बढ रही है| पाकिस्तान ने भारतीय जवानों पर हमले करने के लिए स्नायपर्स का इस्तेमाल भी शुरू किया है और ऐसी ही एक हमले में ‘सीमा सुरक्षा बल’ के अधिकारी हाल ही में शहादत प्राप्त हुई है| उसके बाद पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में भारत के तीन जवान भी जखमी हुए है| पाकिस्तान की इन गतिविधियों पर भारतीय लष्कर प्रमुख ने पाकिस्तान को कडी चेतावनी दी थी| सीमा पर बखेडा खडा करने की नीति पाकिस्तान ने कायम रखी तो, भारतीय लष्कर नियंत्रण रेखा पर बडी कार्रवाई करने के लिए हिचकिचाएगा नही, यह इशारा लष्कर प्रमुख जनरल बिपीन रावत इन्होंने दिया था| इसके बाद केवल कुछ ही घंटों में भारतीय लष्कर ने इस चेतावनी के अनुसार वास्तव में कार्रवाई की हुई दिख रहा है|

बुधवार की रात पाकिस्तानी लष्कर ने की हुई गोलाबारी को भारतीय लष्कर ने कडा प्रत्युत्तर दिया| इस प्रति हमले में पुंछ सेक्टर में सीमा के निटक पाकिस्तानी लष्कर ने बनाए सात बंकर्स ध्वस्त हुए है और पाकिस्तान के पांच जवान भी ढेर हुए है|

जम्मू-कश्मीर, नियंत्रण रेखा, परे, पाकिस्तान, सात बंकर्स, भारतीय सेना, ध्वस्त, पांच जवान, ढेरइस दौरान हुई क्षति की जानकारी का पाकिस्तान ने स्वीकार नही किया है| लेकिन, पाकिस्तान के विदेश सचिव मोहम्मद फैसल इन्होंने नियंत्रण रेखा पर भारत ने की कार्रवाई से भारतीय लष्कर की महत्वाकांक्षा सामने आती है, यह आलोचना की| नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ‘बॉर्डर एक्शन टीम’ (बॅट) की गतिविधियां शुरू होने के आरोप भारत करता है| लेकिन, पाकिस्तान की सेना में ऐसा दल ही मौजूद नही है, यह दावा फैसल इन्होंने किया है| पाकिस्तान का लष्कर काफी जिम्मेदार और व्यावसायिक है, यह विदेश सचिव फैसल इन्होंने कहा है|

इस दौरान, भारतीय लष्कर के नॉर्दन कमांड के प्रमुख लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इन्होंने पुंछ जिले के नियंत्रण रेखा पर बने पोस्ट को भेंट दी थी| इस दौरान उन्होंने रक्षा की तैयारी का मुआईना किया और जवानों के साथ बातचीत भी की| भारतीय लष्कर हमेशा पाकिस्तान से एक कदम आगे रहता है और पाकिस्तान लष्कर की कार्रवाई को भारत से मुखभंग करनेवाला जवाब प्राप्त होता है, यह लेफ्टनंट जनरल सिंग इन्होंने इस दौरान कहा|

वर्ष २०१८ में भारती लष्कर ने २५० से अधिक आतंकियों को ढेर किया है| वही ५४ आतंकियों को जीवित पकडा है और इस दौरान ४ आतंकी शरण आए है| यह बात भारतीय सुरक्षा बलों की क्षमता सिद्ध करती है, यह लेफ्टनंट जनरल रणबीर सिंग इन्होंने कहा है| इस दौरान, सुरक्षा बलों को आतंक विरोधी मुहीम में प्राप्त हुई सफलता जम्मू-कश्मीर में बगावतखोर एव उनके पीछे खडे पाकिस्तान को निराश कर रही है| आतंकियों पर और उन्हे सहायता कर रहे बगावतखोरों पर सुरक्षा बलों की हो रही कार्रवाई यानी मानवाधिकार का हनन होने की आलोचना पाकिस्तान कर रहा है|

भारत से हो रहे कथित मानवाधिकार के हनन पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संज्ञान करे, यह पाकिस्तान की मांग है| लेकिन, विश्‍व के किसी भी देश ने इस मुद्दे पर भारत के विरोध में जाने से इन्कार किया है और पाकिस्तान को इस मोर्चे पर मुह की खानी पडी है, यही दिखाई दे रहा है|