लगातार तिसरे दिन इस्रायल ने हमास पर किए जोरदार हवाई हमलें

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तरतेल अविव – गाजापट्टी के हमास के आतंकवादी और समर्थकों से इस्रायल के सीमा भाग में किए जाने वाले मॉर्टर तथा ‘बलून बम’ के हमलें लगातार तीसरे दिन भी शुरू रहे है| तो हमास के इन हमलों को इस्रायल ने भी हवाई हमलों से उत्तर देने के सत्र शुरू रखें और इनमें हमास के लष्करी अड्डे ध्वस्त होने की जानकारी सामने आ रही है| इसी के साथ भूमध्य समुद्र के दिशा से यात्रा करने वाले हमास के विमानों पर भी हमलें करने का ऐलान इस्रायल के लष्कर ने किया हैं|

शनिवार रात को गाजापट्टी के हमास के लष्करी अड्डे से इस्रायल के दक्षिण की सीमा भाग में मॉर्टर तथा रॉकेट हमलें किए गए थे| इसके अलावा इस्रायल की सीमा के पास प्रदर्शन करने वाले हमास के कट्टरपंथी समर्थकों ने इस्रायल की सीमा भाग में ‘बलून बम’ के हमलें किए थे| गाजापट्टी से हुए इन दोनों हमलों में जीवित हानि नहीं हुई हैं| परंतु ‘बलून बम’ के हमलों में सीमा भाग की कृषि भूमि का नुकसान होने की शिकायत स्थानीय नागरिक कर रहे हैं| ‘बलून बम’ के हमलें करके हमास ने इस्रायल के व्यापार की हानि करने की कोशिश की है, यह दावा इस्रायली जनता कर रही हैं|

पिछले दो दिन गाझा से होने वाले इन हमलों को इस्रायली लष्कर तथा लड़ाकू विमानों ने उत्तर दिया था| शनिवार रात के हमलें के पश्चात भी इस्रायली लड़ाकू विमानों ने रविवार आधी रात के बाद गाजापट्टी में हमास के ठिकानों पर हमलें चढ़ाए थे| इन हमलों में गाजापट्टी के हमास के कुछ स्थान नष्ट होते हुए उनके फोटोग्राफ्स स्थानीय माध्यमों में प्रसिद्ध हुए हैं| तो इस्रायली लड़ाकू विमानों ने उससे आगे जाकर आधी रात के बाद भूमध्य समुद्र में संदेहजनक गतिविधियां करने वाले हमास के दो जहाजों को भी लक्ष्य करने का इस्रायली लष्कर ने घोषित किया था|

इन हमलों में कितनी जीवित हानि हुई है इस बारे में हमास ने जानकारी नहीं दी हैं| परंतु पिछले दो-तीन दिनों से इस्रायल ने किए हमलों में हमास तथा ‘इस्लामिक जिहाद’ का नुकसान होने का दावा किया जाता हैं| कुछ ही दिनों पहले गाजापट्टी के ईरान समर्थक ‘इस्लामिक जिहाद’ इस आतंकवादी संगठन ने इस्रायल के जेरूसलेम, तेल अविव इन शहरों तक पहुंचने वाली मिसाइल अपने पास होने की घोषणा कर इस्रायल को धमकाया था| तो पिछले सप्ताह में हमास ने भी इस्रायल पर हमलें करने की चेतावनी दी थीं| उसके पश्चात इस्रायल ने गाजा पर हमलें बढ़ाए हैं|