‘साऊथ चाइना सी’ में अमरिकी युद्धपोत की गश्ती के बाद – चीन ने किया जहाज विरोधी ‘डीएफ-२६’ तैनात

Third World Warबीजिंग: अमरिका की दो विमान वाहक युद्धपोतों को डुबोने का इशारा देने के बाद चीन ने ‘डीएफ-२६’ यह जहाज विरोध मिसाइल तैनात करने का ऐलान किया है| दो दिन पहलें अमरिकी युद्धपोत ने ‘साऊथ चाइना सी’ की क्षेत्र से गश्त की थी| उसके बाद चीन ने ‘डीएफ-२६’ तैनात करने का ऐलान करके अमरिका को चेतावनी दी है, यह दावा अमरिका में लष्करी विश्‍लेषक कर रहे है| कुछ दिनों पहले चीन के राष्ट्राध्यक्ष ‘शी जिनपिंग’ इन्होंने लष्कर को युद्ध के लिए तैयार होने के आदेश दिए थे|

साऊथ चाइना सी, अमरिकी युद्धपोत, गश्ती, बाद, चीन, जहाज विरोधी, डीएफ-२६, तैनातचीन की सरकारी समचार पत्र ने प्रसिद्ध की जानकारी के नुसार, जहाज विरोधी ‘डीएफ-२६’ मिसाइल चीन के वायव्य हिस्से में तैनात किए हुए है| सबसे पहले २०१५ में चीन ने लष्करी परेड में जहाज विरोधी ‘डीएफ-२६’ मिसाइल विश्‍व के सामने लाया था| उसके बाद पिछले वर्ष अपैल महीने में यह मिसाइल चीन की सेना में दाखिल करने का ऐलान किया था| लेकिन उसके बाद यह मिसाइल चीन के कौन से हिस्से में तैनात किया है, इस बारे में जानकारी सामने नही आ सकी थी| लेकिन दो दिन पहले बडे ट्रक पर रखे जहाज विरोधी ‘डीएफ-२६’ मिसाइल वायव्य हिस्से में तैनात करने की जानकारी चीन के लष्करी अधिकारी ने सरकार पत्र को दी|

लगभग ४,५०० किलोमीटर दूरी तक मारा करने में सक्षम यह ‘डीएफ-२६’ मिसाइल पैसिफिक महासागर में अमरिका के ‘गुआम’ द्विप तक पहंच सकता है| साथ ही अमरिका की विमान वाहक युद्धपोतों को डुबोने की क्षमता भी यह मिसाइल रखता है, यह दावा चीन ने किया था| पिछले हफ्ते में चीन के एक वरिष्ठ सेना अधिकारी ने ‘साऊथ चाइना सी’ पर कब्जा करने के लिए अमरिका की दो विमान वाहक युद्धपोतों को डुबोने का विकल्प जिनपिंग की हुकूमत को दिया गया था| युद्धपोत डुबाई गई तो अमरिका को बडा झटका मिलेगा, यह दावा चीन के इस अधिकारी ने किया था|

साऊथ चाइना सी, अमरिकी युद्धपोत, गश्ती, बाद, चीन, जहाज विरोधी, डीएफ-२६, तैनातऐसे में ही अगले कुछ ही घंटों में चीन के राष्ट्राध्यक्ष ने अपनी सेना को ‘साऊथ चाइना सी’ के मुद्दे पर युद्ध के लिए तैयार रहने के आदेश दिए थे| लेकिन अमरिका ने इस समुद्री क्षेत्र में अपनी युद्धपोत रवाना करके चीन को चुनौती दी थी| अमरिकी युद्धपोत ने चीन के ‘कृत्रिम’ द्विपों की क्षेत्र के नजदिकी हिस्से से गश्त की थी| इस पृष्ठभुमि पर चीन के ‘डीएफ-२६’ मिसाइल की तैनाती की ओर गंभीरता से देखा जा रहा है| ‘डीएफ-२६’ मिसाइल की तैनाती की जानकारी सामने आ रही थी तभी चीन की नौसेना से जुडे लष्करी विश्‍लेषक ने अमरिका को धमकाया है|

‘साऊथ चाइना सी’ पर चीन का सार्वभौम अधिकारी है| लेकिन चीन के इस अधिकार को अमरिका से चुनौती मिल रही है| आने वाले समय में इस समुद्री क्षेत्र की द्विपों पर तैनात चीन के सैनिक या संबंधितों की सुरक्षा को खतरा बना, या समुद्री क्षेत्र के मुद्दे से अमरिका और चीन के बीच जंग शुरू हुई तो उसके लिए सिर्फ अमरिका जिम्मेदार रहेगी, यह चेतावनी चीन की ‘नेव्हल मिलिटरी स्टडिज् रिसर्च इन्स्टिट्यूट’ इस लष्करी संगठन के विश्‍लेषक ‘झैंग जूंशे’ इन्होंने दी है|