यूरोप में लौटनेवाले ‘आईएस’ के आतंकियों को रोकना ही होगा – हंगेरी के विदेश मंत्री की चेतावनी

Third World Warबुडापेस्ट: ‘आईएस’ के आतंकी यूरोपीय देशों में वापस लौटने की कोशिश कर रहे है| साथ ही यूरोपीय महासंघ ने शरणार्थियों को दुबारा स्वीकारने के लिए उत्तेजना देने के प्रकार शुरू किए है| यह प्रकार रोकने होंगे’, ऐसी चेतावनी हंगेरी के विदेश मंत्री पीटर सिझार्तो इन्होंने दी है|

यूरोप, लौटनेवाले, आईएस, आतंकियों, रोकना, हंगेरी, विदेश मंत्री, चेतावनीसीरिया एवं इराक में ‘आईएस’ पीछे हटने पर विवश हो रही है| यह स्पष्ट होने के साथ ही इन देशों में मौजूद आतंकी अब अपने देश लौटने की कोशिश कर रहे है| इसमें यूरोपीय देशों के हजारों आतंकियों का समावेश है| यह आतंकी शरणार्थियों के झुंड का इस्तेमाल करके यूरोप में घुसपैठ करेंगे, यह दावा अलग अलग यंत्रणा कर रही है|

‘यूरोपीय देशों में ‘आईएस’ से जुडी या उनके समर्थक चरमपंथियों की दुसरी लाट टकराने का डर है| इस लाट को ‘आईएस २.०’ कहा जा सकता है| इराक और सीरिया में आईएस की शिकस्त होने के बाद उस हिस्से के आतंकवादी यूरोप में वापस लौट रहे है| यह हताश और खोने के लायक कुछ भी बचा नही है, ऐसी स्थिति में पहुंचे आतंकी यूरोपीय यंत्रणा के लिए चिंता का विषय बन रहे है’, इन शब्दों में इंटरपोल के महासंचालक जुर्गन स्कॉक इन्होंने नए आतंकी हमलों के खतरे की ओर ध्यान आकर्षित किया था| यह वापस आ रहे आतंकी युद्ध का तजुर्बा होने वाले प्रशिक्षित एवं अंतरराष्ट्रीय संपर्क बनाए है, यह बात ध्यान में रखनी होगी, ऐसा? भी स्टॉक ने इशारा दिया था| इस पृष्ठभूमि पर हंगेरी के विदेश मंत्री ने दिया इशारा ध्यान आकर्षित करनेवाला साबित होता है|

 

‘आईएस’ के आतंकियों के १०० से अधिक बच्चे ब्रिटेन पहुंचने की तैयारी में – ब्रिटीश अभ्यासगुट का दावा

यूरोप, लौटनेवाले, आईएस, आतंकियों, रोकना, हंगेरी, विदेश मंत्री, चेतावनीलंदन: ब्रिटन से आतंकी ‘आईएस’ संगठन में शामिल होने के लिए सीरिया में गए युवतियों के १०० से अधिक बच्चे ब्रिटेन में लौटने की तैयारी में होने का दावा ब्रिटीश अभ्यास गुट ने किया है| इस मामले के अहवाल में ब्रिटेन के साथ अन्य पश्‍चिमी देशों ने ऐसे घर वापस लौटनेवाले बच्चों को लेकर नीति तय करनी होगी, यह सुझाव भी दिया गया है| ब्रिटेन में फिलहाल शमिमा बेगम इस १९ वर्ष की आतंकी युवती का मामला बडा गरमा है| इसका आधार लेकर ‘द सौफन सेंटर’ इस अभ्यास गुट ने यह अहवाल तैयार किया है| इस अहवाल में ब्रिटेन से कम से कम १५० लडकीयां एवं महिला ‘आईएस’ में शामिल होने के लिए सीरिया पहुंची होने की जानकारी दी है| इन लडकीयां एवं महिलाओं को आतंकियों की वजह से हुए बच्चे अब ब्रिटेन पहुंचने की तैयारी में होने का इशारा इस अहवाल में दिया गया है|

इसके पहले जर्मनी और फ्रान्स की गुप्तचर यंत्रणाओं ने घर वापस आ रहे आतंकी एवं उनके बच्चों के मामले में चेतावनी देनेवाले अहवाल प्रसिद्ध किए थे|