इस्रायल ने किए सीरिया के कुनित्रा सीमा पर हमलें – रशिया से इस्रायल पर आलोचना

Third World Warजेरूसलम/दमास्कस/मॉस्को: सीरिया के दक्षिणी हिस्से में ‘कुनित्रा’ सीमा के निकट लष्करी पोस्ट एवं अस्पताल को इस्रायल के लष्कर ने लक्ष्य किया है, ऐसे आरोप सीरियन माध्यम कर रहे है| इस्रायल ने सीरिया में किए इस हमले पर रशिया ने नाराजगी व्यक्त की है और इस्रायल ने सीरिया में की हुई यह कार्रवाई अन्याय होने की आलोचना भी की है|

इस्रायल, किए, सीरिया, कुनित्रा सीमा, हमलें, रशिया, आलोचना, जेरूसलम, दमास्कस, मॉस्कोगोलान पहाडियों पर तैनात इस्रायली लष्कर के टैंकों ने सोमवार रात सीमा से परे कुनित्रा शहर पर राकेट हमले किए| इस्रायल के इन हमलों की वजह से ‘जब्ता अल हशाब’ क्षेत्र में संपत्ति की बडी मात्रा में हानि हुई है, ऐसा सीरियन माध्यमों ने कहा है| इस हमले में अस्पताल की भी हानि होने का आरोप सीरियन माध्यम कर रहे है| लेकिन, सीरिया के सरहदी क्षेत्र में किए इस हमले के बारे में इस्रायल ने अबतक प्रतिक्रिया दर्ज नही की है|

पिछले कुछ वर्षों में इस्रायल ने सीरिया में सैकडों हवाई हमले किए है| ईरान और हिजबुल्ला की सीरिया में शुरू लष्करी गतिविधियां रोकने के लिए हमले करने की बात इस्रायल ने मानी भी है और इसके आगे भी सीरिया में ईरान के ठिकानों पर हमलें जारी रहेंगे, ऐसा इशारा भी इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू इन्होंने दिया था| अबतक इस्रायल ने सीरिया की राजधानी दमास्कस के नजदिकी क्षेत्र के साथ लेबनान सीमा के निकट एवं सीरिया के उत्तरी हिस्से में हमले किए थे| लेकिन, सीरिया के दक्षिणी हिस्से में कुनित्रा सीमा के पास हमलें करके इस्रायल ने इस हिस्से में ईरान की गतिविधियों पर इशारा दिया है, ऐसा दावा अंतरराष्ट्रीय माध्यम कर रहे है|

इस्रायल, किए, सीरिया, कुनित्रा सीमा, हमलें, रशिया, आलोचना, जेरूसलम, दमास्कस, मॉस्कोपिछले वर्ष कुनित्रा शहर में ईरान और हिजबुल्लाह ने गतिविधियां शुरू की थी| ईरान के सैनिक इस्रायल के गोलान पहाडियों की सीमा की दिशा में खतरनाक तरीके से आगे बढ रहे है, यह आरोप करके इस्रायल ने इस हिस्से में गोलाबारी और राकेट हमले किए थे| अस्साद हुकूमत का समर्थन कर रही रशिया, इस्रायल की सीमा से निकट मौजूद ईरान के सैनिकों को वापसी करने के लिए दबाव बनाए, यह मांग भी इस्रायल ने रखी थी| उसके बाद सोमवार के दिन इस्रायली लष्कर ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया|

इस दौरान, इस्रायल की सुरक्षा हमारे लिए सबसे अहम है, ऐसा वक्तव्य रशिया के उप-विदेश मंत्री सर्जेई रिब्कोव्ह इन्होंने किया है| सीरिया में इस्रायल के हो रहे हमलें अवैध है और रशिया को मंजूर नही, ऐसा भी रिब्कोव्ह ने कहा है| इसके पहले इस्रायल ने सीरिया में हमलें करने के बाद रशिया ने कडी नाराजगी व्यक्त की थी| लेकिन, इस्रायल ने यह हमलें आत्म सुरक्षा के लिए जरूरी है, ऐसा कहकर आगे भी ऐसे हमलें होते रहेंगे, ऐसा सीरियन हुकूमत के साथ रशिया को भी डटकर चेतावनी दी थी|