‘डीआरडीओ’ ने बनाई ‘एंटिबॉडी डिटेक्शन किट’

‘डीआरडीओ’ ने बनाई ‘एंटिबॉडी डिटेक्शन किट’

नई दिल्ली – कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन उपलब्ध है। फिर भी कोरोना के विषाणुओं के विरोध में खोजकर्ता और वैज्ञानिकों की कोशिशें अभी बंद नहीं हुई हैं। ‘भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन’ (डीआरडीओ) ने अब ‘एंटिबॉडी डिटेक्शन किट’ विकसित की है। इस किट को ‘डीपकोवैन’ नाम दिया गया है और इसके ज़रिये […]

Read More »

‘डीआरडीओ’ ने बनाई दवा १२ मई से बाज़ार में उपलब्ध होगी – ‘डीआरडीओ’ के अध्यक्ष की जानकारी

‘डीआरडीओ’ ने बनाई दवा १२ मई से बाज़ार में उपलब्ध होगी – ‘डीआरडीओ’ के अध्यक्ष की जानकारी

नई दिल्ली – भारत में कोरोना के विरोध में जारी जंग में अहम साबित होनेवाली ‘२-डीजी’ दवा १२ मई से बाज़ार में उपलब्ध होगी, यह जानकारी ‘डीआरडीओ’ के अध्यक्ष ने प्रदान की है। संक्रमितों के शरीर में विषाणुओं का संक्रमण रोककर यह दवा मरीज़ों को जल्द स्वस्थ कर सकेगी। साथ ही इस दवा से संक्रमितों […]

Read More »

‘डीआरडीओ’ ने बनाई कोरोना की दवा को ‘डीसीजीआय’ की मंजूरी – ‘२-डीजी’ दवा देने पर ऑक्सिजन की निर्भरता कम होने का अनुमान

‘डीआरडीओ’ ने बनाई कोरोना की दवा को ‘डीसीजीआय’ की मंजूरी – ‘२-डीजी’ दवा देने पर ऑक्सिजन की निर्भरता कम होने का अनुमान

नई दिल्ली – कोरोना के विरोध में जारी जंग में ‘रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन’ (डीआरडीओ) ने बनाई ‘२-डीजी’ दवा बड़ा काम करने के आसार हैं। देश में फिलहाल चार हज़ार कोरोना संक्रमित रोज़ाना मृत हो रहे हैं और कई संक्रमितों को ऑक्सिजन लगाने की आवश्‍यकता निर्माण हो रही है। ऐसे में ‘डीआरडीओ’ ने बनाई […]

Read More »

इस्रो द्वारा ‘फ्री स्पेस क्वांटम कम्युनिकेशन’ का परीक्षण – भारत का दुनिया के गिने-चुने देशों की सूची में समावेश

इस्रो द्वारा ‘फ्री स्पेस क्वांटम कम्युनिकेशन’ का परीक्षण – भारत का दुनिया के गिने-चुने देशों की सूची में समावेश

बंगळुरू – ‘भारतीय अंतरिक्ष संशोधन संस्था’ (इस्रो) ने, प्रकाशकणों की सहायता से संदेश का आदान-प्रदान करनेवाले ‘फ्री स्पेस क्वांटम कम्युनिकेशन’ इस अत्याधुनिक तंत्रज्ञान का परीक्षण किया है। यह परीक्षण सफल हुआ होकर, ऐसा तंत्रज्ञान होनेवाले दुनिया के गिने-चुने देशों में भारत का समावेश हुआ है। इस तंत्रज्ञान के द्वारा संदेशवहन बहुत ही सुरक्षित होकर, कोई […]

Read More »

‘डीआरडीओ’ द्वारा पनडुब्बियों के ‘एआयपी’ तंत्रज्ञान का परीक्षण

‘डीआरडीओ’ द्वारा पनडुब्बियों के ‘एआयपी’ तंत्रज्ञान का परीक्षण

मुंबई – समुद्री सतह के नीचे गहराई में रहने की पनडुब्बियों की क्षमता में बढ़ोतरी करने वाले ‘एअर इंडिपेंडन्ट प्रोपल्शन-एआयपी’ तंत्रज्ञान का परीक्षण ‘ रक्षा संशोधन और विकास संस्था’ ने (डीआरडीओ) किया है। अब तक अमरीका, रशिया, फ्रान्स, ब्रिटन और चीन इन देशों के पास होनेवाला यह ‘एआयपी’ तंत्रज्ञान अब भारत के पास भी आया […]

Read More »

‘ध्रुवास्त्र’ वायुसेना में शामिल होने के लिए तैयार – अंतिम परीक्षण पुरा हुआ

‘ध्रुवास्त्र’ वायुसेना में शामिल होने के लिए तैयार – अंतिम परीक्षण पुरा हुआ

नई दिल्ली/पोखरण – राजस्थान स्थित पोखरण में टैंक विरोधी ‘ध्रुवास्त्र’ मिसाइल के एक ही दिन में चार परीक्षण किए गए। भारतीय वायुसेना के बेड़े में मौजूद कम भार के ‘ध्रुव’ हेलिकॉप्टर से किए गए यह परीक्षण कामयाब हुए हैं, यह जानकारी भारतीय रक्षा एवं अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ) ने प्रदान की। इन चार परीक्षणों के साथ […]

Read More »

अगले पांच वर्षों में देश के रक्षा निर्यात में होगी वृद्धि – ‘डीआरडीओ’प्रमुख का विश्‍वास

अगले पांच वर्षों में देश के रक्षा निर्यात में होगी वृद्धि – ‘डीआरडीओ’प्रमुख का विश्‍वास

नई दिल्ली – अगले पांच वर्षों में भारत के रक्षा क्षेत्र की निर्यात में बड़ी वृद्धि होकर रहेगी, यह विश्‍वास ‘डीआरडीओ’ के प्रमुख ‘जी.सतीश रेड्डी’ ने व्यक्त किया है। ‘कॉन्फेड़रेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री’ (सीआयआय) ने आयोजित किए वेबिनार में ‘डीआरडीओ’ के प्रमुख बोल रहे थे। अगले चार से पांच वर्षों में भारतीय रक्षाबलों के बेड़े […]

Read More »

वैज्ञानिक ‘एआय’ तकनीक, अंतरिक्ष और सायबर सुरक्षा पर ध्यान केंद्रीत करें – ‘डीआरडीओ’ के प्रमुख सतीश रेड्डी

वैज्ञानिक ‘एआय’ तकनीक, अंतरिक्ष और सायबर सुरक्षा पर ध्यान केंद्रीत करें – ‘डीआरडीओ’ के प्रमुख सतीश रेड्डी

नई दिल्ली – अगली पीढ़ी की प्रगत तकनीक का विकास करने पर वैज्ञानिक ध्यान केंद्रीत करें, ऐसा निवेदन ‘डीआरडीओ’ के प्रमुख सतीश रेड्डी ने किया है। ‘डीआरडीओ’ के ६३ वें स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में रेड्डी बोल रहे थे। रक्षा उत्पादन क्षेत्र के उद्योग के विकास की बड़ी क्षमता ‘डीआरडीओ’ रखती है। […]

Read More »

‘डीआरडीओ’ ने विकसित किये ‘हायपरसॉनिक विंड टनेल’ का रक्षामंत्री के हाथों उद्घाटन – अमरीका, रशिया के बाद भारत तीसरा देश

‘डीआरडीओ’ ने विकसित किये ‘हायपरसॉनिक विंड टनेल’ का रक्षामंत्री के हाथों उद्घाटन – अमरीका, रशिया के बाद भारत तीसरा देश

हैदराबाद – रक्षामंत्री राजनाथ सिंग ने हैदराबाद में ‘रक्षा संशोधन और विकास संस्था’ (डीआरडीओ) ने बनाये ‘हायपरसॉनिक विंड टनेल’ का उद्घाटन किया। हायपरसॉनिक विमान, क्षेपणास्त्र, ईंजन इनके परीक्षण के लिए यह ‘हायपरसॉनिक विंड टनेल’ बहुत ही महत्त्वपूर्ण साबित होगा। देसी बनावट की ऐसी सुविधा विकसित करनेवाला भारत, यह अमरीका और रशिया के बाद का दुनिया […]

Read More »

’एटीएजीएस’ विश्‍व में सबसे बेहतर – इसके आगे भारत को तोप आयात करने की आवश्‍यकता नहीं रहेगी – ‘डीआरडीओ’ का दावा

’एटीएजीएस’ विश्‍व में सबसे बेहतर – इसके आगे भारत को तोप आयात करने की आवश्‍यकता नहीं रहेगी – ‘डीआरडीओ’ का दावा

नई दिल्ली – भारत ने विकसित की हुई ‘एडवान्स टोवड् आर्टिलरी गन सिस्टम’ (एटीएजीएस) विश्‍व में सबसे बेहतर है। इसलिए, अब भारत को तोप आयात करने की आवश्‍यकता नहीं महसूस होगी, ऐसा दावा ‘रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन’ (डीआरडीओ) ने किया है। ‘डीआरडीओ’ ने विकसित किए स्वदेशी ‘एटीएजीएस’ इस ‘होवित्ज़र’ तोप का लगातार परीक्षण किया […]

Read More »
1 2 3 6