इंधन दर कम न किये तो अमरिका सौदी की सुरक्षा हटायेगी – राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प की धमकी

वॉशिंग्टन/रियाध: तेल उत्पादक देशों का संगठन ‘ओपेक’ पर प्राबल्य रहने वाले सदस्य देशों द्वारा इंधन दर कम करने के लिये उपाय किये नहीं तो अमरिका उनके रक्षा की जिम्मेदारी नही लेगा, ऐसे शब्दों में राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने सौदी अरेबिया को धमकाया है| पिछले हफ्ते ट्रम्प ने सौदी अरेबिया के ‘राजे सलमान’ द्वारा देश में कच्चे तेल का उत्पादन प्रतिदिन २० लाख बैरल्स तक बढ़ाने की तैयारी दिखाने का खलबली मचानेवाला दावा किया था| इसके बाद उचित प्रतिसाद न मिलने पर ट्रम्प ने सुरक्षा हटाने की धमकी दी है, ऐसा दिख रहा है|

ईरान के परमाणु कार्यक्रम समझौते से अमरिका का पिछे हटना और राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने ईरान के खिलाफ डाले हुये निर्बंधों की वजह से पिछले कुछ दिनों में कच्चे तेल की दरों में उतार-चढ़ाव शुरू हुये है| ईरान पर डाले निर्बंधो के बाद कई देशों ने ईरान से तेल खरीदना बंद करने के संकेत देने पर अंतरर्राष्ट्रीय स्तर पर तेल की आपुर्ती कम होने के संकेत मिल रहे है| इस पृष्ठभूमी पर, ‘ओपेक’संघटन द्वारा उत्पादन में बढ़ोत्तरी होनी चाहिए ऐसा आवाहन अमरिका द्वारा किया गया था|

इंधन दर, कम, सौदी, सुरक्षा, हटायेगी, ट्रम्प, धमकी, अमरीका, ट्विटइस मसले पर अमरिका और सौदी अरेबिया के बीच बातचीत शुरू हुई है, ऐसा दावे किये गये थे| पिछले हफ्ते राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने ‘ट्विट’ करके अपनी सीधे सौदी के ‘किंग सलमान’ से बातचीत होने की जानकारी दी थी| इसके बाद किये ट्विट में उन्होने कच्चे तेल के उत्पादन में बढ़ोत्तरी करने के मसले पर चर्चा होने की और सौदी द्वारा २० लाख बॅरल्स का उत्पाद बढाने की तैयारी दिखाई जाने का दावा ट्रम्प ने किया|

लेकिन सौदी अरेबिया और ‘ओपेक’ के सदस्य देशों द्वारा इंधन उत्पादन बढ़ाने के मामले में किसी भी प्रकार की अहम ऐलान हुआ नहीं| इस वजह से अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प नाराज हुए थे और उन्होंने सीधे सौदी हुकूमत को लक्ष्य बनाया ऐसा कहा जाता है| ‘ओपेक’ में १० से ज्यादा देश होकर भी सौदी और मित्र अरब देशों का वर्चस्व रहने की बात कही जाती है| इस वजह से ट्रम्प ने नाम न लेते हुये सौदी को धमकाया है|

‘इंधन दर लगातार बढ़ रहे है| ओपेक पर हुकूमत बजानेवालों को यह ध्यान में रखना चाहिए| ओपेक दर कम करने के लिये कुछ गतिविधियॉं कर नहीं है| अमरिका ओपेक के सदस्य देशों को कम पैसों में रक्षा मुहय्या करती आ रही है और वे लेकिन इंधन दर बढ़ा रहे है| यह बरदाश्त नहीं किया जायेगा| विनिमय की राह दो तरफा रहता है, इसकी जानकारी रखनी चाहिए| ओपेक द्वारा जल्द से जल्द इंधन दर घटाने होंगे|’ इन शब्दों में ट्रम्प ने सौदी प्रशासन को धमकाया है|

अमरिका ने नवंबर महिने तक ईरान की इंधन निर्यात बंद करने का निर्धार किया है| इससे पहले सौदी अरेबिया द्वारा कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाना चाहिए, ऐसी मॉंग की है| लेकिन सौदी अरेबिया के पास उस तुलना में क्षमता ना होने के कारन सौदी हुकूमत दुविधा में पड़ी है ऐसा कहा जाता है|