चीन को जवाब देने की तैवान तैयारी करें – तैवान की राष्ट्राध्यक्षा का ऐलान

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तरतैपेई – ‘तैवान में घुसपैठ करने के लिए चीन ने गतिविधियों में बढोतरी की है| चीन की इन गतिविधियों पर तैवान कडी नजर बनाए है और तैवान की सुरक्षा यंत्रणा भी चीन को जवाब देने की तैयारी रखे’, यह ऐलान तैवान की राष्ट्राध्यक्षा ‘त्साई ईंग वेन’ इन्होंने किया| पिछले कुछ हफ्तों से चीन के विध्वंसक और लडाकू विमानों ने तैवान की सीमा के निकट गतिविधियां बढाई है| इस पृष्ठभूमि पर तैवान की राष्ट्राध्यक्ष ने यह ऐलान किया है|

राष्ट्राध्यक्षा ‘त्साई ईंग वेन’ इनकी अध्यक्षता के तहेत तैवान की सुरक्षा संबंधी बैठक हाल ही में हुई| इस बैठक के बाद तैवान की राष्ट्राध्यक्षा ने पत्रकारों के साथ बातचीत करने के दौरान चीन से बढ रहे खतरों का जिक्र किया| चीन अब तैवान में घुसपैठ करने की तैयारी में होने का आरोप राष्ट्राध्यक्षा त्साई ने किया| चीन की यह घुसपैठ तैवान की सुरक्षा के लिए खतरा है, यह उन्होंने स्पष्ट किया| सिर्फ सेना की नही, बल्कि तैवान में होनेवाले चुनाव में भी घुसपैठ करने के लिए चीन ने प्लैन तैयार किया है| तैवान में चीन के पक्ष में रहनेवाली सरकार बनाने के लिए और ‘फेक न्यूज’ की मुहीम शुरू रखने के लिए चीन ने गतिविधियां शुरू की है, यह आरोप राष्ट्राध्यक्षा ‘त्साई’ ने रखा है|

लेकिन, चीन के किसी भी लष्करी आक्रामकता को प्रत्युत्तर देने के लिए हम तैयार है, यह विश्‍वास तैवान के राष्ट्राध्यक्ष ने व्यक्त किया| इसके लिए राष्ट्राध्यक्ष ‘त्साई’ इन्होंने पिछले महीने में चीन ने की घुसपैठ की याद दिलाई| पिछले महीने में चीन के विध्वंसक और बॉम्बर्स तैवान की सीमा के निकट मंडरा रहे थे| तैवान की सेना ने समय पर जवाब देकर चीन की यह घुसपैठ की कोशिश नाकाम की थी| अब भी चीन से तैवान की सुरक्षा को चुनौती देने के लिए घुसपैठ हो सकती है, इसका एहसास राष्ट्राध्यक्ष त्साई ने दिलाया| इस वजह से तैवान की सुरक्षा यंत्रणा चीन की इस घुसपैठ को जवाब देने की तैयारी रखें, यह आदेश राष्ट्राध्यक्ष त्साई इन्होंने दिए है|

अगले कुछ हफ्तों में तैवान में आम चुनाव हो रहे है| इस चुनाव में राष्ट्राध्यक्षा त्साई की पार्टी को परास्त करने के लिए और चीन समर्थक सरकार बनाने के लिए चीन जोरदार कोशिश कर रहा है, यह दावा है| चीन के रक्षा मंत्रालय से जुडे अधिकारी ने इस संबंधी वक्तव्य भी किया था| इस पृष्ठभूमि पर तैवान की राष्ट्राध्यक्षा ने अपनी सुरक्षा यंत्रणा को सतर्क किया दिख रहा है|

इस दौरान, तैवान यह चीन का ही हिस्सा है, यह दावा चीन कर रहा है| इस वजह से अन्य कोई भी देश तैवान के साथ स्वतंत्र सहयोग स्थापित ना करें, यह चीन की भूमिका है| साथ ही अमरिका के साथ राजनयिक और लष्करी सहयोग स्थापित करनेवाले तैवान को चीन के राष्ट्राध्यक्ष शी जिनपिंग इन्होंने सीधे धमकाया था| ‘वन चाइना’ नीति का स्वीकार रके तैवान चीन में विलीन हो, नही तो चीन तैवान के विरोध में लष्करी सामर्थ्य का इस्तेमाल करेगा, यह धमकी राष्ट्राध्यक्ष जिनपिंग इन्होंने दी थी| इसके बाद चीन के विध्वंसक, विमानों ने तैवान की सीमा के निकट गतिविधियां बढाई थी| इस वजह से तैवान में त्साई सरकार का तख्तापलट करने की हर तरह की कोशिश चीन करेगा, यह दिख रहा है| इस पृष्ठभूमि पर तैवान के राष्ट्राध्यक्ष ने अपनी सुरक्षा यंत्रणा को दिए आदेशों की गंभीरता बढ रही है|