रशिया की आक्रामकता का मुकाबला करने के लिए स्वीडन ने रक्षाखर्च में की ४० प्रतिशत बढ़ोतरी

रशिया की आक्रामकता का मुकाबला करने के लिए स्वीडन ने रक्षाखर्च में की ४० प्रतिशत बढ़ोतरी

स्टॉकहोम/मॉस्को – रशिया की आक्रामक गतिविधियों का मुकाबला करने के लिए स्वीडन की संसद ने अपने रक्षाखर्च में ४० प्रतिशत बढ़ोतरी करने के लिए मंजूरी दी है। इस मंजूरी के बाद स्वीडन अपना रक्षाखर्च बढ़ाकर ११ अरब कर रहा है। स्वीडन ने रक्षाखर्च में इतनी बड़ी मात्रा में बढ़ोतरी करने का बीते ७० वर्षों में […]

Read More »

शरणार्थियों के जरिए बढ रही हिंसा रोकने के लिए स्वीडन में ‘स्पेशल टास्क फोर्स’ का गठन

शरणार्थियों के जरिए बढ रही हिंसा रोकने के लिए स्वीडन में ‘स्पेशल टास्क फोर्स’ का गठन

स्टॉकहोम – पिछले कुछ वर्षों से स्वीडन में शरणार्थियों के झुंड घुंसे है और इससे हिंसा और अन्य अपराधिक घटनाओं में बढोतरी होने का रपट सामने आया है| इस पृष्ठभूमि पर स्वीडिश पुलिस ने बढती हिंसा रोकने के लिए ‘स्पेशल टास्क फोर्स’ का गठन किया है और देश के प्रमुख शहरों में इस फोर्स की […]

Read More »

स्वीडन में शरणार्थियों के अनियंत्रित झुंडों के कारण गृहयुद्ध शुरू होगा – स्वीडीश उद्योजक लेफ ऑस्टलिंग की चेतावनी

स्वीडन में शरणार्थियों के अनियंत्रित झुंडों के कारण गृहयुद्ध शुरू होगा – स्वीडीश उद्योजक लेफ ऑस्टलिंग की चेतावनी

स्टॉकहोम: स्वीडन की सरकार ने शरणार्थियों के झुंडों का ही ध्यान रखकर उन्हें सुरक्षा प्रदान करना बंद नही किया तो अगले कुछ वर्षों में स्वीडन में गृहयुद्ध शुरू होगा, यह कडी चेतावनी स्वीडन के नामांकित उद्योजक लेफ ऑश्टलिंग ने दी है| स्वीडीश सरकार ने पिछले कुछ वर्षों में क्षमता से भी अधिक शरणार्थियों को पनाह […]

Read More »

चार दशक में पहली बार स्वीडन के आरक्षित सेनादल का आपातकालीन युद्धाभ्यास

चार दशक में पहली बार स्वीडन के आरक्षित सेनादल का आपातकालीन युद्धाभ्यास

 २२ हजार आरक्षित सैनिक शामिल स्टॉकहोम – केवल दो हफ्तों पहले देश की जनता को युद्ध के लिए सज्ज रहने की चेतावनी देनेवाले स्वीडन में चार दशकों के बाद पहली बार अपने आरक्षित सेनादल के साथ आपातकालीन युद्धाभ्यास का आयोजन किया था। बुधवार ६ जून के रोज आयोजित हुए इस युद्धाभ्यास में स्वीडन के होम […]

Read More »

‘मेक इन इंडिया‘ को स्वीडन की सहायता – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

‘मेक इन इंडिया‘ को स्वीडन की सहायता – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

स्टॉकहोम: भारत के प्रधानमंत्री स्वीडन के दौरे पर हैं। स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन के साथ द्विपक्षीय चर्चा करने के बाद संयुक्त पत्रकार परिषद को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने दोनों देशों के संबंध के महत्व को अधोरेखित किया है। ‘मेक इन इंडिया’ को स्वीडन मदद कर रहा है, ऐसा मोदी ने कहा है। […]

Read More »

रशिया के संभाव्य आक्रमण को जवाब देने के लिए स्वीडन से टोटल मोबिलाइजेशन प्लान की तैयारी

रशिया के संभाव्य आक्रमण को जवाब देने के लिए स्वीडन से टोटल मोबिलाइजेशन प्लान की तैयारी

बर्न: रशिया के संभाव्य आक्रमण को जवाब देने के लिए नाटो एवं अमरिका से गतिमान कदम उठाए जा रहे हैं। उसके लिए नाटो के सदस्य होने वाले यूरोपीय देशों ने अपना रक्षा सामर्थ्य एवं बचाव सक्षम करने के लिए गतिविधियां शुरू की है और स्वीडन में टोटल डिफेंस और टोटल मोबिलाइजेशन योजना को कार्यान्वित करने […]

Read More »

अमरिका ने यूरोपीय देशों के हथियारों की आपूर्ति बढाई

अमरिका ने यूरोपीय देशों के हथियारों की आपूर्ति बढाई

स्वीडन को ‘पॅट्रिऑट’  मिसाइल भेदी यंत्रणा की आपूर्ति करेगा  वॉशिंग्टन/बर्न: रशिया की बढती आक्रामकता का कारण बताकर अमरिका ने यूरोपीय देशों को हथियारों की आपूर्ति बढाई है, यह बात सामने आई है। हाल ही में अमरिका ने यूरोप के स्वीडन को ‘पॅट्रिऑट’ इस मिसाइल भेदी यंत्रणा की आपूर्ति को मंजूरी देने की घोषणा की थी। […]

Read More »

भारत को ‘एफ-१६’ और ‘एफ-१८’ प्रदान करने पर, भारत-अमरीका का सहयोग ऊँचे स्तर पर जायेगा- अमरीका के उपमंत्री का दावा

भारत को ‘एफ-१६’ और ‘एफ-१८’ प्रदान करने पर, भारत-अमरीका का सहयोग ऊँचे स्तर पर जायेगा- अमरीका के उपमंत्री का दावा

नई दिल्ली: अमरीका ने एफ-१६ एवं एफ-१८ लड़ाकू विमान भारत को प्रदान करने का निर्णय लिया है और इस से भारत के साथ अमरीका का सामरिक सहयोग एक नए ऊंचे स्तर पर पहुंच रहा है, ऐसा अमरीकी विदेश मंत्रालय के मध्य एवं दक्षिण आशिया विभाग की उपमंत्री ऐलिस वेल्स ने कहा है। प्रशांत महासागर क्षेत्र […]

Read More »

‘स्वीडन फिर कभी भी निर्वासितों के जत्थे का स्वीकार नहीं करेगा’ : प्रधानमंत्री स्टिफन लॉफवेन

‘स्वीडन फिर कभी भी निर्वासितों के जत्थे का स्वीकार नहीं करेगा’ : प्रधानमंत्री स्टिफन लॉफवेन

स्टॉकहोम, दि. ११: ‘स्वीडन ने सन २०१५ में निर्वासितों के जत्थे का स्वीकार किया था| लेकिन इसके आगे कभी भी स्वीडन इतनी बड़ी मात्रा में निर्वासितों का स्वीकार नही करेगा| जिन्हें स्विडीश प्रणाली ने अनुमति देने से इन्कार किया है, ऐसे हरएक निर्वासित को पुनः अपने देश में लौट जाना होगा| इन सारी घटनाओं से […]

Read More »