समय की करवट (भाग ७२) – पकड़ने जाओ को काटता है, छोड़ दिया तो भाग जाता है

समय की करवट (भाग ७२) – पकड़ने जाओ को काटता है, छोड़ दिया तो भाग जाता है

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

समय की करवट (भाग ७१) – क्युबन मिसाईल क्रायसिस

समय की करवट (भाग ७१) – क्युबन मिसाईल क्रायसिस

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

समय की करवट (भाग ७०) – क्युबन रिव्हॉल्युशन

समय की करवट (भाग ७०) – क्युबन रिव्हॉल्युशन

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

समय की करवट (भाग ६९) – क्युबन रिव्हॉल्युशन

समय की करवट (भाग ६९) – क्युबन रिव्हॉल्युशन

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

समय की करवट (भाग ६८) – क्युबा

समय की करवट (भाग ६८) – क्युबा

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

दुसरे विश्‍व युद्ध में आधा युरोप आजाद करनेवाले ब्रिटेन से युरोपीय महासंघ कर रहा है अपमानजनक बरताव – ब्रिटेन के संसद सदस्य का आरोप

दुसरे विश्‍व युद्ध में आधा युरोप आजाद करनेवाले ब्रिटेन से युरोपीय महासंघ कर रहा है अपमानजनक बरताव – ब्रिटेन के संसद सदस्य का आरोप

लंदन – दुसरे विश्‍व युद्ध के दौरान ब्रिटेन ने आधे युरोप को आजाद करने के लिए अहम भूमिका निभायी थी| लेकिन, अब युरोपीय महासंघ ‘बेक्जिट’ के संबंधी ब्रिटेन से काफी अपमानजनक बरताव कर रहा है, यह आरोप ब्रिटेन के सत्तापक्ष के सदस्य ‘डैनिअल कौझिन्स्की’ इन्होंने किया है| साथ ही ब्रिटेन के व्यापार मंत्री लिआम फौक्स […]

Read More »

समय की करवट (भाग ६७) – सुएझ : घटनाओं की गूँजें

समय की करवट (भाग ६७) – सुएझ : घटनाओं की गूँजें

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

समय की करवट (भाग ६६) – सुएझ : परदे के पीछे की गतिविधियाँ

समय की करवट (भाग ६६) – सुएझ : परदे के पीछे की गतिविधियाँ

‘समय की करवट’ बदलने पर क्या स्थित्यंतर होते हैं, इसका अध्ययन करते हुए हम आगे बढ़ रहे हैं। इसमें फिलहाल हम, १९९० के दशक के, पूर्व एवं पश्चिम जर्मनियों के एकत्रीकरण के बाद, बुज़ुर्ग अमरिकी राजनयिक हेन्री किसिंजर ने जो यह निम्नलिखित वक्तव्य किया था, उसके आधार पर दुनिया की गतिविधियों का अध्ययन कर रहे […]

Read More »

रशिया से युआन और युरोप के निवेश में काफी बढोतरी

रशिया से युआन और युरोप के निवेश में काफी बढोतरी

मास्को – रशिया के मध्यवर्ती बैंक ने अमरिकी डॉलर को झटका देकर युआन और युरो इन दो चलनों में हो रहे निवेश का प्रमाण बडी मात्रा में बढाया है, यह जानकारी सामने आ रही है| २०१८ में रशिया ने विदेशी मुद्रा भांडार में अमरिकी डॉलर का हिस्सा लगभग शून्य तक घटाने के संकेत दिए थे| […]

Read More »

युरोप का इस्लामीकरण शुरू रहा तो जर्मनी की भी युरोपिय महासंघ से ‘एक्जिट’ – ‘अल्टरनेटिव्ह फॉर जर्मनी’ की चेतावनी

युरोप का इस्लामीकरण शुरू रहा तो जर्मनी की भी युरोपिय महासंघ से ‘एक्जिट’ – ‘अल्टरनेटिव्ह फॉर जर्मनी’ की चेतावनी

बर्लिन: इस्लाम धर्म देश को धर्म से अलग मानता नही और इस वजह से वह राजनीतिक विचारधारा का हिस्सा साबित होता है| युरोप में सभी देशों ने एक होकर कोशिश की तो युरोप का इस्लामीकरण रोकना मुमकिन होगा| युरोप में कई लोग इस्लाम का खतरा स्वीकार ने के लिए तैयार नही, लेकिन यह खतरा बढ […]

Read More »
1 2 3 11