सीरिया के राजधानी में रशियन लष्कर की गश्ती

रशियन राष्ट्राध्यक्ष पुतिन कि सीरिया पर पकड़ मजबूत

दमास्कस /मास्को –  सीरिया की राजधानी दमास्कस में रशियन सेना की पुलिस बल गश्ती करने लगे हैं। दमास्कस को बागी और आतंकवादियों से होने वाले खतरों की पृष्ठभूमि पर रशिया की गश्ती अत्यंत महत्वपूर्ण मानी जा रही है। इस बारे में खबरें देते हुए अंतर्राष्ट्रीय माध्यमों ने इस गस्ती के साथ ही रशियन राष्ट्राध्यक्ष ब्लादिमीर पुतिन की सीरिया पर पकड़ अधिक मजबूत हुई है, ऐसा दावा किया है।

दमास्कस में रशिया के लष्करी पुलिस की तैनाती की खबरें रशियन माध्यमों ने प्रसिद्ध की है। रशियन सेना पुलिस के पथक लष्करी विमान से उतरने की तस्वीरें भी उस समय प्रसिद्ध की गई है। उसके बाद राजधानी दमास्कस के दक्षिण में बैथ, सज्म, सीदी, मिकदात, बाबीला और याल्दा इन प्रमुख शहरों में रशियन लष्करने गश्ती शुरू की है। सिरियन पुलिस एवं लष्करी पथक की सहायता का काम कर रहे हैं और रशियन लष्कर ने दमास्कस में संपर्क यंत्रणा कब्जे में ली है।

रशियन लष्कर

पिछले हफ्ते में रशिया के हवाई हमलों को समर्थन देनेवाले सिरियन लष्कर ने आतंकवादियों को राजधानी दमास्कस से बाहर खदेड़ा था। लगभग ३२०० बागियों को उनके परिवारों के साथ दमास्कस से बाहर निकाला था। पर आज भी दमास्कस के कई भाग आयएस एवं संबंधित आतंकवादी संघटना के कब्जे में होने की आशंका सिरियन लष्कर ने जताई है। इन आतंकवादियों को बाहर खदेड़ने के लिए सिरियन सेनाने विशेष मुहिम हात ली है।

पर आतंकवादी तथा बागियों से राजधानी दमास्कस की सुरक्षा को फिर एक बार खतरा निर्माण हो रहा है, ऐसा दावा रशिया तथा सिरियन सुरक्षा यंत्रणा कर रही है। इस पृष्ठभूमि पर सिरियन राजधानी की सुरक्षा के लिए रशियन लष्कर कि यह गस्ती शुरू की गई है, यह दावा रशियन माध्यमों ने किया है। पर सिरियन राजधानी में लष्कर उतारकर रशियन राष्ट्राध्यक्ष पुतिन सीरिया पर अपनी पकड़ मजबूत कर रहे है, ऐसा दावा पाश्चिमात्य माध्यम कर रहे हैं।

इससे पहले भी सीरिया के पश्चिम में तार्तुस और लातकिया, हमा इन शहरों में रशिया के नौदल और हवाई अड्डा है। तथा हमा शहर में रशियन लष्कर ने अड्डा बनाने की खबरें प्रसिद्ध हुई थी। कई हफ्तों पहले रशिया के रक्षामंत्री ने इस लष्करी अड्डों को भेंट दी थी। तथा सीरिया में ऐतिहासिक पालमीरा शहर से आयएस के आतंकवादियों को बाहर खदेड़ कर रशियन लष्कर की पुलिस ने यह कब्जा बनाया था। इसके अतिरिक्त अमेरिका और इस्राइल के हवाई हमलों का लक्ष्य होने वाले शैरात और टी४ इन जगहों पर भी रशिया के अड्डे होने का दावा किया जा रहा है। इसकी वजह से राजधानी दमास्कस में सेना उतारकर रशियन राष्ट्राध्यक्ष ने सिरियापर अपनी पकड़ मजबूत कि है, यह बात दिखाई दे रही है।

इराक के कुर्द नेताओं द्वारा स्वतंत्र कुर्दिस्तान की कोशिशें तेज़
अमरीका-ऑस्ट्रेलिया सहयोग कायम रहेगा : अमरिकी उपराष्ट्राध्यक्ष माईक पेन्स ने जताया भरोसा
उत्तर कोरिया के सायबर हमले मे अमरीका–दक्षिण कोरिया के ‘वॉर प्लान्स’ हॅक
‘आयएस’ और ‘अल कायदा’ एक होकर दूसरा ९/११ हमला करने की तैयारी में- अमरिका के वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी क...
सऊदी अरेबिया ने नागरिकता दी ‘रोबोट सोफ़िया’ विवाद के घेरे में
खाड़ी प्रचंड विस्फोट की दहलीज पर खड़ा है - अमरिकी विश्लेषक का इशारा
ट्रम्प के विधानों का पॅलेस्टाइनी राष्ट्राध्यक्ष की ओर से विपर्यास- व्हाईट हाउस की टीका
अमरिका ईरान के खिलाफ वैश्विक मोर्चा तैयार करेगा - अमरिका के विदेश मंत्रालय की घोषणा

Leave a Reply

Your email address will not be published.