राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवल की रशिया भेंट

नई दिल्ली – अफगानिस्तान में भारतीय अभियंता का अपहरण हुआ है, तभी अमरिका ने रशिया पर जारी किए प्रतिबंध, रशिया के पाकिस्तान के साथ बढ़ती सहयोग इन गतिविधियों के पृष्ठभूमि पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवल ने रशिया को भेंट दी है। इस भेंट में डोवल ने रशिया के विदेश मंत्री सर्जेई लावरोव से चर्चा की है। पिछले महीने से डोवल की यह रशिया की दूसरी भेंट है और डोवल की इस अचानक हुई रशिया भेंट काफ़ी महत्वपुर्ण मानी जा रही है।

अजीत डोवल

२ महीनों पहले सुरक्षा सलाहकार डोवल इनके विदेश सचिव विजय गोखले और वरिष्ठ अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल रशिया दौरे पर गए थे। यह दौरा मतलब दोनों देशों में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर पर होनेवाले नियमित चर्चा का भाग था, ऐसा कहा जा रहा है। पिछले चार महीनों में २ दिन का यह तीसरा रशिया दौरा होकर पिछले महीने में उन्होंने दूसरी बार रशिया को भेंट दी है। अप्रैल में भारत के रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन रशिया दौरे पर गए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रशिया के राष्ट्राध्यक्ष और व्लादिमीर पुतिन ने दोनों देशों में वार्षिक शिखर सम्मेलन में भेंट होनेवाली है। वर्ष के आखिर में यह द्विपक्षीय चर्चा होनेवाली है और उस समय दोनों नेता महत्वपूर्ण घोषणा कर सकते हैं, ऐसा कहा जा रहा है। इसकी पूर्व तैयारी के तौर पर भारतीय अधिकारियों के यह दौरे शुरू होने का दावा किया जा रहा है। पर बदल रही आर्थिक परिस्थिति के पृष्ठभूमि पर इस दौरे को देखा जा रहा है।

ब्रिटेन में रशियन जासूस पर हुए हमले के बाद अमरिका और मित्र देशों का रशिया के साथ तनाव बढ़ा है। उसके बाद अमरिका ने रशिया पर प्रतिबंध जारी किए हैं। इसकी वजह से रशिया से रक्षा साहित्य आयात करने में निर्माण हुए बाधाओं पर भी डोवल के दौरे में चर्चा की गई है। तथा अफगानिस्तान में भारत के सात अभियंताओं का अपहरण हुआ है। उनके रिहाई के लिए भारत के प्रयत्न शुरू होकर उसके लिए रशिया की मदद ली जा रही है। डोवल और रशियन विदेश मंत्री सर्जेई में चर्चा का यह प्रमुख मुद्दा था, ऐसा वृत्त है।

अफगानिस्तान में परिस्थिति, आतंकवाद विरोधी लड़ाइयां और नशीले पदार्थों की तस्करी के मुद्दे पर भी डोवल और रशियन विदेशमंत्री में चर्चा हुई है। तथा ईरान करार से अमरिका ने वापसी करने के बाद निर्माण हुई परिस्थिति के बारे में विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर डोवल और सर्जेई में चर्चा होने की बात सामने आ रही है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवल ने इस दौरे में रशियन सिक्योरिटी काउंसिल के सचिव निकोलाई पत्रूशेव्ह को भेंट दी है। इनके इस रशिया भेंट के संदर्भ में भारत सरकार द्वारा अबतक कोई भी जानकारी उजागर नहीं हो सकी है। पर रशियन विदेश मंत्रालय ने इस संदर्भ में अधिकृत निवेदन घोषित करते हुए दोनों देशों में विविध द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा होने की बात कही है।