सीरिया के ईरानी जवानों को मारने वाले इस्राइल को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी – ईरान के वरिष्ठ नेता का इशारा

तेहरान : सोमवार को सीरिया के होम्स में इस्राइल ने हवाई हमले करके यहाँ के लष्करी अड्डों को लक्ष्य बनाया था। इस हमले में ईरान के सात जवान मारे जाने की जानकारी भी सामने आई है। इस पर ईरान से प्रतिक्रिया भी आई है और ईरान के सर्वोच्च धर्मगुरु आयातुल्ला खामेनी के सलाहकारों ने इस्राइल को इसका कठोर शासन किया जाएगा, ऐसी धमकी दी है।

खामेनी के वरिष्ठ सलाहकार अली अकबर विलायती मंगलवार को सीरिया में दाखिल हुए और उन्होंने होम्स में स्थित लष्करी अड्डे का मुआइना किया। इस समय बोलते वक्त विलायती ने के जवानों की बली लेने वाले इस्राइल को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी, ऐसा इशारा दिया है। इन जवानों का बलिदान ईरान बेकार नहीं जाने देगा, ऐसा कहकर इस्राइल के खिलाफ ईरान कठोर कार्रवाई करेगा, ऐसा विलायती ने कहा है।

दौरान, ईरान की कार्रवाई को ध्यान में रखकर इस्राइल ने पहले से ही लष्करी सिद्धता बढाई है। इस दौरान इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने अपने देश का घात करने पर तुले हर एक पर हमले किए जाएंगे, ऐसा इशारा दिया था। इस पर ईरान के प्रतिक्रिया की संभावना ध्यान में रखकर इस्राइल ने अपनी सतर्कता बढाने की खबरें भी प्रसिद्ध हुईं हैं।

इस्राइल इन दिनों हाई अलर्ट पर होने की खबर इस देश की मीडिया ने प्रसिद्ध की है।

‘सर्जिकल स्ट्राईक’ का अमरीका द्वारा समर्थन
‘आर्टिफिशल इंटेलिजन्स’ की दुनिया के सामने गंभीर चुनौती होने की विख्यात उद्योजक एलॉन मस्क की चेतावनी
‘पाकिस्तान की आतंकवादपरस्त नीति से भारत और पाकिस्तान के बीच परमाणुयुद्ध भड़क सकता है’ : अमरिकी सेना अ...
‘ब्लू व्हेल’ को उत्तेजन देने वाले भी ख़ूनी- रशियन राष्ट्राध्यक्ष की कडी टीका
रशिया के सोने की अरक्षित जमा १,७१६ टन पर अमरीकी डॉलर का प्रभाव कम करने की योजना का भाग
‘ओपेक’ का निर्णय एवं बढती मांग पर ईंधन तेल के दाम ७० डॉलर्स तक पहुंचे; तीन वर्षो मे उच्चांक
तुर्की को सदस्यता नकारकर यूरोपीय महासंघ ने बड़ी गलती की है - तुर्की के राष्ट्राध्यक्ष एर्दोगन का नया ...
अमरिका के साथ व्यापार युद्ध की पृष्ठभूमि पर - जर्मनी एवं चीन के अरब डॉलर का व्यापारी सहयोग

Leave a Reply

Your email address will not be published.