इस्रायल से हिजबुल्लाह-लेबनान के साथ युद्ध का ऐलान हो – इस्रायल के जनरल स्ट्रीक की मांग

Third World Warजेरूसलम: ‘हिजबुल्लाह अभी भी लेबनान की भूमि से इस्रायल पर हमला करने का षडयंत्र कर रही है| यह हमला होने तक प्रतिक्षा करना सभी मायने में गलत साबित होगा| इसी लिए यह हमला होने से पहले ही इस्रायल युद्ध का ऐलान करके हिजबुल्लाह पर कार्रवाई करे| साथ ही हिजबुल्लाह और लेबनान एक-दुसरे से अलग है, इस समझ में इस्रायल ना रहे| क्यों की हिजबुल्लाह लेबना की सरकार में शामिल है’, ऐसा इशारा इस्रायली रक्षादलों के जनरल योएल स्ट्रीक इन्होंने अपने देश को दिया है| यह खतरा ध्यान में रखकर इस्रायल हिजबुल्लाह और लेबनान के विरोध में युद्ध शुरू करें, यह मांग जनरल स्ट्रीक इन्होंने रखी|

इस्रायल, हिजबुल्लाह, लेबनान, युद्ध, ऐलान, जनरल स्ट्रीक, मांगपिछले वर्ष इस्रायल में घुसपैठ करने के लिए हिजबुल्लाह ने टनेल बनाना शुरू किया था, यह बात स्पष्ट हुई थी| यह टनेल इस्रायल के रक्षादलों ने नष्ट किए थे| फिर भी हिजबुल्लाह ने इस्रायल पर हमले करने का प्लैन अभी छोडा नही है| हिजबुल्लाह इसपर कडी कोशिश कर रही है, यह आरोप जनरल स्ट्रीक ने किया| इसीलिए हिजबुल्लाह के हमलों की प्रतिक्षा करते रहना खतरनाक हो सकता है, इसका एहसास दिलाकर जनरल स्ट्रीक ने इस हमले से पहले ही हिजबुल्लाह को सबक सिखाना जरूरी होने की बात कही है| इसके लिए इस्रायल ने हिजबुल्लाह और लेबनान के विरोध में युद्ध का ऐलान करना होगा, यह अपना स्पष्ट कहना है, ऐसा जनरल स्ट्रीक ने कहा है|

इस्रायल और लेबनान की सीमा एकदुसरे से मिली है और लेबनान की सीमा से हिजुब्लाह इस्रायल के विरोध में हमलें के षडयंत्र कर रही है, यह आरोप इसके पहले भी हुए थे| साथ ही हिजबुल्लाह पर बडी कार्रवाई करने की तैयारी भी इस्रायल ने की थी| लेकिन, हिजबुल्लाह पर कार्रवाई करने के नाम से इस्रायल ने हम पर हमला किया तो लेबनान की सेना उसका जवाब देगी, यह इशारा लेबनीज नेताओं ने दिया था| इसके बाद लेबनान ने इस्रायल के निकट सरहदी क्षेत्र में लष्करी तैनाती बढाई थी|

इस्रायल, हिजबुल्लाह, लेबनान, युद्ध, ऐलान, जनरल स्ट्रीक, मांगइस बात का स्पष्ट रूप से जिक्र किया ना हो फिर भी इस्रायल के जनरल स्ट्रीक इन्होंने हिजबुल्लाह और लेबनान में फरक करने की गलती इस्रायल से ना हो, यह इशारा दिया है| फिलहाल हिजबुल्लाह लेबनान की सरकार में शामिल हुई है, इस ओर जनरल स्ट्रीक ने ध्यान आकर्षित किया है| निवृत्ती नजदिक होते हुए जनरल स्ट्रीक ने अपने देशो को दी यह कडी सलाह ध्यान आकर्षित करती है| हिजबुल्लाह के साथ संघर्ष शुरू हुआ तो इस्रायल की सेना तैयार नही है, इस संबंधी रपट प्रसिद्ध होने के बाद जनरल स्ट्रीक इन्हें बढोतरी देकर इस संघर्ष के लिए तैयारी करने के आदेश दिए गए थए| इसीलिए जनरल युएल स्ट्रीक इनके वक्तव्य की अहमियत है|

वर्ष २००६ में इस्रायल और हिजबुल्लाह में ३४ दिनों तक कडा संघर्ष हुआ था| इस युद्ध में हिजबुल्लाह ने इस्रायल को दी टक्कर चौकानेवाली बात साबित हुई थी| इस युद्ध के बाद हिजबुल्लाह के आत्मविश्‍वास में बढोतरी हुई थी| वर्तमान समय में हिजबुल्लाह की ताकद में कई गुना बढोतरी हुई है और हम इस्रायल का नाश करेंगे, ऐसी धमकियां हिजबुल्लाह के नेता खुलेआम दे रहे है|

ऐसी स्थिति में जनरल स्ट्रीक इन्होंने रखे प्रस्ताव की ओर इस्रायल के नेता काफी गंभीरता से देखेंगे, यह संकेत प्राप्त हो रहे है| इस्रायल के लिए खतरा होनेवालों के लिए हम अधिक खतरनाक होंगे, यह इशारा इस्रायल के प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू इन्होंने दिया था| हालही में हुए चुनाव में सफलता प्राप्त करके दुबारा सत्तापर बने प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू इन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्देपर इस्रायल किसी भी प्रकार का समझौता नही करेगा, यह ऐलान किया था| इस पृष्ठभूमि पर जनरल युएल स्ट्रीक इन्होंने हिजबुल्लाह को लेकर दिया यह इशारा इस्रायल की कार्रवाई के संकेत दे रहा है|