‘आईएस’ के प्रमुख बगदादी ने नए विडीओ के जरिए दी फ्रान्स और मित्रदेशों पर हमलें करने की धमकी

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तरकैरो – इराक-सीरिया में संघर्ष शुरू करके संपूर्ण विश्‍व में ‘खिलाफत’ का अमल करने संबंधी ऐलान करनेवाले आतंकी ‘आईएस’ संगठन का प्रमुख ‘अबू बक्र अल-बगदादी’ ने अपने समर्थकों को उकसाया है| श्रीलंका में चर्च और पंचतारांकित होटल पर आतंकी हमलें करवा कर सीरिया में हुई हार का बदला लेने का दावा बगदादी ने किया| इसके साथ ही बगदादी ने अब अपने समर्थकों को उकसाने की कोशिश में इराक-सीरिया में हुई हार का बदला लेने के लिए ‘आईएस’ को अब फ्रान्स के साथ मित्रदेशों पर हमलें करने के लिए कहा| पाच वर्ष के बाद ‘बगदादी’ का यह विडीओ प्रसिद्ध हुआ है और इशके पहले उसकी मौत होने के दावे करनेवाले कई समाचारों की भी चर्चा शुरू हुई है|

वर्ष २०१४ में इराक के मोसूल शहर में एक प्रार्थनास्थल पर ‘बगदादी’ का विडीओ प्रसिद्ध हुआ था| इसके बाद अपने समर्थकों को उकसाने के लिए ‘बगदादी’ के ऑडीओ प्रसिद्ध होते रहे थे| साथ ही अमरिका और मित्रदेशों के हवाई हमलों में ‘बगदादी’ के मारे जाने के दावे भी सामने आ रहे थे| वर्ष २०१७ में इराक और सीरिया की सीमापर हुए हवाई हमलों में बगदादी अपने साथियों के साथ मारे जाने की खबरे भी प्रसिद्ध हुई थी| कुछ ही महीने पहले सीरिया ‘आईएस’ के प्रभाव से मुक्त होने का ऐलान अमरिका ने किया था|

इस वजह से बगदादी के मारे जाने के साथ ‘आईएस’ भी खतम होने के दावे यूरोप के माध्यमों ने किए थे| लेकिन, सोमवार के दिन ‘आईएस’ की ‘अल फूरकान नेटवर्क’ ने ‘बगदादी’ का १८ मिनिटों का विडीओ प्रसिद्ध किया| इसमें ईस्टर की सुबह श्रीलंका में चर्च और पंचतारांकित होटल में हुए आत्मघाती हमलों का स्वागत किया है| सीरिया में ‘बाघौज’ इस आखरी अड्डे से ‘आईएस’ को पीछे हटना पडा था| इसके जवाब में यह हमला किया गया, ऐसा बगदादी ने कहा है|

लेकिन, इराक और सीरिया के संघर्ष में मारे गए और अभी तक दुश्मनों के कैद में पडे अपने साथियों पर हुई कार्रवाई का बदला लेने के लिए फ्रान्स और मित्रदेशों पर हमलें करने का निवेदन बगदादी ने किया है| इसके लिए पश्‍चिमी अफ्रीका के ‘आईएस’ के दहशतगर्दों को पहल करने के आदेश बगदादी ने दिए है| बगदादी ने फ्रान्स और मित्र देशों का जिक्र करने से यूरोपीय देश फिर से ‘आईएस’ का लक्ष्य होने की बात स्पष्ट हुई| साथ ही पश्‍चिमी अफ्रीका के आतंकियों को निवेदन करके यूरोप में घुसपैठ करनेवाले शरणार्थियों के कारण यूरोप की सुरक्षा के लिए खतरा होने का एहसास बगदादी ने कराया है|

हाल ही में प्राप्त बगदादी का विडीओ अप्रैल के शुरूआत में फिल्माया गया है, यह बात हो रही है| लेकिन, श्रीलंका में २१ अप्रैल के दिन आतंकी हमला हुआ था| इस वजह से बगदादी के नए विडीओ की सत्यता की जांच हो रही है और अमरिकी सुरक्षा यंत्रणा भी इस संबंधी बात करने से अभी तक दूर रही है|