‘पाकिस्तान में घुसकर ईरान आतंकवादियों के अड्डों पर हमले करेगा’ : ईरान के सेनाप्रमुख की धमकी

तेहरान, दि. ८: ‘पाकिस्तानी अधिकारी और एजन्सियाँ सीमा पर उचित नियंत्रण रखकर आतंकवादियों को कब्जे में ले लें और उनके अड्डें बंद करें, ऐसी हमारी उम्मीद है| लेकिन इसके आगे यदि आतंकवादियों के हमले क़ायम रहें, तो ईरान आतंकवादियों के आश्रयस्थानों पर और उनकी जगहों पर ज़ोरदार हमलें करेगा| ये जगहें कहीं भी हों, हमें उसकी फ़िक़्र नहीं है’, ऐसे कड़े शब्दों में ईरान के सेनाप्रमुख ने पाकिस्तान को खुले आम धमकी दी है| पिछले महिने, ईरान के सीमा सुरक्षा दल के १० जवानों की आतंकवादियो ने हत्या की थी| इसपर प्रतिक्रिया देते समय ईरान ने खुलेआम पाकिस्तान को धमकाया है|

पिछले महीने में हुई ईरानी जवानों की हत्या के लिए पाकिस्तानस्थित ‘जैश अल अदल’ यह आतंकवादी गुट ज़िम्मेदार है, ऐसा ईरान का दावा है| इस गुट के आतंकवादियों ने पाकिस्तानी सीमा से ‘लाँग रेंज गन्स’ का इस्तेमाल करके ईरानी जवानों की हत्या की, ऐसा आरोप ईरान की सेना ने किया है| इन हत्याओं पर तीव्र नापसंति दर्शाते हुये ईरान ने पाकिस्तान को उचित इशारा दिया था| लेकिन अब ईरानी सेनाप्रमुख ने सीधे पाकिस्तान के आतंकवादियों के आश्रयस्थान पर हमला करने की धमकी देकर आक्रामक भूमिका अपनायी है|

ईरान के सेनाप्रमुख मेजर जनरल मोहम्मद बागेरी ने, सीमा पर आतंकवादियों के हमले ईरान बरदाश्त नहीं करेगा, ऐसी चेतावनी दी है| पाकिस्तान ने आतंकवादियों पर कार्रवाई नहीं की, तो ईरान उन्हे लक्ष्य बनाकर मार गिरायेगा, ऐसे शब्दों में उन्होंने आक्रामक कार्रवाई के संकेत दिये| ईरान के विदेशमंत्री ने पिछले हफ्ते पाकिस्तान की यात्रा करके, प्रधानमंत्री नवाझ शरीफ को सीमा के सुरक्षासंबंध में उचित ध्यान रखने की सूचना की थी| इसके बाद विदेशमंत्री झरिफ ने अफगानिस्तान की यात्रा करके ईरान की आतंकवादसंबंधी भूमिका साफ शब्दों में रखी थी|

‘ईरान आतंकवादियों में ‘अच्छा’ और ‘बुरा’ ऐसा फ़र्क़ नहीं करता| अफगानिस्तान और ईरान ने आतंकवादविरोधी संघर्ष में एकसाथ लड़ना ज़रूरी है| दोनो देशों की सीमाएँ सुरक्षित रखने के लिए यह बहुत ज़रूरी है, ऐसा आवाहन ईरान के विदेशमंत्री ने किया था| इस पृष्ठभूमि पर, ईरान के सेनाप्रमुख ने पाकिस्तान को दी धमकी सबका ग़ौर फ़रमा रही है|

पाकिस्तान के पड़ोसी देश रहनेवाले भारत और अफगानिस्तान इन देशों ने इससे पहले भी, पाकिस्तान लगातार आतंकवादियों को पनाह देता आ रहा है, ऐसी शिकायत करके कारवाई की माँग की है| पिछले कुछ सालों से ईरान ने भी इसपर आक्रामक भूमिका लेकर, सीधी कार्रवाई के संदर्भ में दी हुई चेतावनी पाकिस्तान की मुश्किलों को बढ़ानेवाली साबित हो सकती है|