गाजा सीमा पर तनाव बढ़ने पर हमास को बहुत बड़ी कीमत चुकानी होगी – इस्राइल के प्रधानमंत्री की धमकी

तृतीय महायुद्ध, परमाणु सज्ज, रशिया, ब्रिटन, प्रत्युत्तर

जेरूसलम – इस्राइल के सीमा के पास गाजापट्टी के हमास समर्थकों से शुरू किए हिंसक प्रदर्शन की वजह से सीमा भाग की परिस्थिति नियंत्रण के बाहर जा सकती है। ऐसा होने पर उसकी बहुत बड़ी कीमत हमास को चुकानी होगी और उसके परिणाम हमास के लिए जटिल होंगे, ऐसी चेतावनी इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने दी है।

पिछले तीन महीनों से हमास के नेतृत्व से इस्राइल के सीमा के पास प्रदर्शन शुरू हुए हैं। इन प्रदर्शनों में गाजा के हजारों लोग शामिल होने का दावा गाजा के हमास के यंत्रणा ने किया है। तथा इस्राइल ने हिंसक प्रदर्शको पर किए कार्रवाई में १३५ लोगों की जान जाने का आरोप हमास कर रहा है। साथ ही हजारों प्रदर्शक सुरक्षा यंत्रणा की कारवाई में जख्मी होने की बात कही जा रही है।

गाजा सीमा

इन प्रदर्शकों को इस्राइल की सीमा रेखा के पास बेड़ा उखाड़ने के लिए हमास के नेता चेतावनी देने का आरोप इस्राइलने किया है। हमास के इस चेतावनी की वजह से गाझा में पैलेस्टाइनियों जान जा रही हैं और आगे चलकर हमास इस्राइल की सीमा के पास हिंसक प्रदर्शन करने की गलती न करें, ऐसा कहकर प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने फटकारा है। गाझा का नियंत्रण हाथ में होकर हमास में इस्राइल विरोधी चेतावनी शुरु रखी तो उसकी बहुत बड़ी कीमत हमास के नेताओं को चुकानी पड़ेगी और यह कीमत हमास के नेताओं के लिए जटिल होगी, ऐसा प्रधानमंत्री नेत्यान्याहूने सूचित किया है।

साथी इस्राइल विरोधी प्रदर्शन भड़काकर हमास द्वारा कुछ हासिल होने की आलोचना नेत्यान्याहू ने की है। हमास के इस प्रदर्शन को अरब देशों से समर्थन नहीं मिला है। इसके विपरीत अरब देशों ने इस्राइल की भूमिका का स्वागत किया है, इसकी तरफ इस्राइल के प्रधानमंत्री ने ध्यान केंद्रित किया है।