अमरिका पाकिस्तान पर कठोर कारवाई की घोषणा करेगा

वॉशिंगटन / इस्लामाबाद: अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान पर विश्वासघात के आरोप करने के बाद, अमरिकी यंत्रणा लगातार पाकिस्तान को इशारे दे रही है। यह अमरिका के बदले हुए योजना का भाग होकर, जल्द ही अमरिका पाकिस्तान पर कठोर कारवाई करेगा, ऐसी चिंता पाकिस्तानी विश्लेषक कर रहे हैं। उनका यह विश्लेषण वास्तव में उतरता दिखाई दे रहा है। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने आने वाले २४ से ४८ घंटों में पाकिस्तान पर कठोर कारवाई की घोषणा की जाएगी, ऐसा घोषित किया है।

पाकिस्तान, कठोर कारवाई, डोनाल्ड ट्रम्प, विश्वासघात, आरोप, वॉशिंगटन, इस्लामाबाद, ड्रोन

नए वर्ष के पहले दिन अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष ने पाकिस्तान पर निशाना साधा था। पिछले १५ वर्ष के कालखंड में अमरिका ने पाकिस्तान को ३३ अब्ज डॉलर्स का निधि प्रदान किया है और अमरिका को पाकिस्तान द्वारा धोखाधड़ी एवं विश्वासघात इसके बदले में दूसरा कुछ नहीं मिला है, ऐसा आरोप राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने किया है। उसके बाद संयुक्त राष्ट्रसंघ में अमरिका के राजदूत निकी हेले, विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीदर न्यूअर्ट तथा व्हाइट हाउस के प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने पाकिस्तान को तीव्र इशारे दिए हैं। सारा सैंडर्स ने मंगलवार को बोलते हुए पाकिस्तान के बारे में महत्वपूर्ण घोषणा की है।

जल्द ही अमरिका पाकिस्तान पर कठोर कारवाई की घोषणा करेगा, ऐसा सैंडर्स ने पत्रकार परिषद में बोलते हुए कहा है। यह कारवाई किस स्वरूप की होगी, इस प्रश्न का उत्तर देते हुए सैंडर्स में आने वाले २४ से ४८ घंटों में इसकी जानकारी उजागर की जाएगी, ऐसा कहा है। यह घोषणा करके अमरिकाने पाकिस्तान की चिंता बढ़ाने की बात दिखाई दे रही है। राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प इनके इशारे के बाद जल्द ही अमरिका पाकिस्तान पर बड़ी कारवाई करने की तैयारी में होने की चिंता पाकिस्तान के विश्लेषकों से व्यक्त की जा रही थी। पर पाकिस्तान के रक्षामंत्री खुर्रम दस्तगीर ने पाकिस्तान अपने सार्वभौमत्व का रक्षण करने के लिए समर्थ होने की बात घोषित की थी।

पिछले कई हफ्तों से अमरिका ने पाकिस्तान में ड्रोन हमले तीव्र किए थे। अमरिका के हमलावर ड्रोन गिराने की धमकी पाकिस्तान के वायुसेना प्रमुख ने की थी। उसके बाद अमरिका ने पाकिस्तान में ड्रोन हमले करके कई आतंकवादियों को ढेर किया था। आने वाले समय में अमरिका पाकिस्तान में घुसकर ड्रोन हमले कर सकता है, ऐसी आशंका जताई जा रही है। तथा कुछ पाकिस्तानी विश्लेषक अमरिका, भारत की सहायता लेकर पाकिस्तान पर हमला करेगा ऐसा डर व्यक्त किया जा रहा है। तथा वैसा होने पर पाकिस्तान को एक ही समय पर महासत्ता एवं भारत जैसे क्षेत्रीय सत्ता का सामना करना होगा। पाकिस्तान के पास क्षमता नहीं है, इसपर विश्लेषक ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। तथा कुछ सामरिक विश्लेषकोंने अमरिका एवं भारत ने पाकिस्तान को लक्ष्य करने पर चीन पाकिस्तान के पक्ष में खड़ा होगा ऐसा दावा किया है।